Nag Panchami 2022

देवों के देव महादेव का है आभूषण, भगवान विष्णु का शेषनाग है सिंहासन, अपने फन पर जिसने पृथ्वी को उठाया, उस नाग देवता को मेरा अभिनंदन।

महादेव के प्यारे नाग देवता, करते हैं पूरी सबकी मनोकामनाएं, पूरे होंगे सब काम आपके, जब शुद्ध रहेगी आपकी भावना।

सावन भक्तों महीना है, नाग-पंचमी का त्यौहार है, जो दिल से महादेव का नाम जपे उसका बेड़ा पार है।

करो भक्तों नाग देवता की पूजा दिल से,  होंगे भोले बाबा बहुत खुश। पंचमी पर नाग देवता को दूध पिलाओ आप,  देंगे शिव वरदान, होंगे दूर सारे पाप।

भोले नाथ के प्यारे हैं नाग देवता,  करते हैं पूरी सभी मनोकामना। होंगे सब काम पूरे आपके,  अगर रहे आपकी शुद्ध भावना।

गले में शिव शंभू के विराजे नाग,  पृथ्वी को रखें हैं अपने फन पर,  ऐसे हैं हमारे शक्तिशाली देवता नागराज इनके चरणों में हमारा कोटि-कोटि प्रणाम।

नाग देवता करेंगे आपकी रक्षा, दूध पिलाएं उन्हें मीठा-मीठा, हो आपके घर में धन की बरसात, ऐसी शुभ हो नाग पंचमी की सौगात।

हर-हर हो महादेव शिव का, हर पल नाम तुम्हारा जपे, नाग-पंचमी का आया त्योहार, शिव को करते हम नमन बारम्बार, शिव बाबा करें बेड़ा पार.