किसी को इतना भी ना चाहो की भुला न सको। क्योंको जिंदगी, इंसान और मोहब्बत, तीनों बेवफा है।

खुद को पढ़ते है, फिर छोड़ देते है। एक पन्ना जिंदगी का, हम रोज मोड़ देते है।

ये मत पूछना कि जिंदगी, खुशी कब देती है? क्योंकि शिकायतें तो उन्हें भी है, जिन्हें जिंदगी सब कुछ देती है।