जिद समझो तो जिद ही सही    SELF RESPECT से बढ़कर    कुछ भी नही।

 बिगड़ गई तो आफ़त वरना    ऐसे तो बहुत अच्छी हूं मैं।

  हमेशा याद रखती हूँ कि    मै सबसे unique हूँ।

औकात की बात मत कीजिए    आप जैसे रुलाकर आई हूँ

 माना मै कुछ ख़ास नही 😏    लेकिन मेरे जैसी किसी में बात नही 🤞🏻

 हिचकियाँ आती है तोह पानी पी लेती हूँ    बस अब वेहम मैं नहीं पड़ती की कोई याद करता होगा..!!